Home blog full review of ranbir kapoor’s movie “sanju” in hindi

full review of ranbir kapoor’s movie “sanju” in hindi

108
0
sanju movie poster
sanju movie poster

full review of ranbir kapoor’s movie “sanju” in hindi

full review of ranbir kapoor’s movie “sanju” in hindi :- सबसे पहले आपको बता देते है कि फिल्म “sanju” sanjay dutt की biography पर लिखित है जिसमे sanjay dutt का role ranbir kapoor निभाते है। और यह movie 29/06/2018 को release हो गयी है।
sanju movie के एक सीन में Sanjay Dutt की girlfriend रूबी का पिता कहता है कि नोट दो तरह के होते हैं, पहला खरा खरा होता है जिसे आप जितना भी खींच लो उस नोट कुछ नहीं बिगड़ता है और दूसरे प्रकार के नोट कि बात करे तो वह नोट, जो कि जरा सा भी खींचने पर फट जाता है। Sanjay Dutt की real life की कहानी भी कुछ ऐसी ही है। film में दिखाया गया है कि दुनिया ने उनको खोटा बताया, लेकिन वह खुद को बिल्कुल खरा मानते हैं। बिना किसी संदेह के दुनिया की नज़रों में खुद को सही साबित करने के लिए ही उन्होंने अपनी life को बतौर film, दुनिया के सामने रखा है। हालांकि अब Sanjay Dutt के पिता sunil dutt उनकी यह film देखने के लिए इस दुनिया में नहीं हैं।

Sanju movie Ranbir-Sanjay
Sanju movie Ranbir-Sanjay

फिल्म की शुरुआती दृश्यो में Sanjay Dutt (ranbir kapoor) एक filmi राइटर से अपनी biography लिखवाता है, but बात नहीं बन पाती है। इसी समय में Sanjay Dutt को सुप्रीम कोर्ट द्वारा सजा सुना दी जाती है। इस्के बाद उसी रात को तनाव में आकर Sanjay Dutt आत्महत्या की कोशिश करते है, क्योंकि Sanjay Dutt नहीं चाहते थे कि कोई भी उनके बच्चों को आतंकवादी(terrorist) का बच्चा कहे। तब उनकी wife मान्यता दत्त (दीया मिर्ज़ा) उसकी मुलाकात एक बड़ी writer विनी (anushaka sharma) से कराती है। Actually संजय और मान्यता चाहते हैं कि उसकी life का सच सबके सामने आ जाये और दुनिया उसे terrorist ना समझे। विनी को sanjay अपनी story सुनाता है, इससे पहले sanjay का पुराना friend जुबिन (जिम सरभ) उससे sanjay की बुराई करे।

sanju movie trailer :-

उस समय sanjay उसे jubin सहित अपने अजीज dost kamlesh (viki कौशल) की story सुनाता है। और वह उसे बताता है कि किस तरह से उनके एक dost जुबिन ने उसे drugs की दुनिया से परिचित कराया और किस तरह दूसरे dost kamlesh ने उसे उस drugs की अंधेरी दुनिया से बाहर निकाला। और किस तरह से उनके पिता sunil dutt (परेश रावल) ने हर तरह की परेशानी को सहन कर के भी उसका साथ नहीं छोड़ा था, इसके बाद film में देखाया गया है कि उनके पिता के इतना साथ देने के बाद भी वे उन्हें शुक्रिया नहीं कह पाया। मां नरगिस (मनीषा कोइराला) ने किस तरह मरने के बाद भी उसका साथ नहीं छोड़ा और हर मुश्किल time में प्रेरणा बन कर उनके साथ रहीं। although, sanjay dutt की life की story को detail से जानने के लिए आपको cinema hall की और जाना होगा।
film को देखने के बाद आप सब कुछ समझ जाएंगे कि जिस तरह real life sanju ने vini को अपनी असल life की story को दुनिया को बताने की responsibility दी, उसी प्रकार से real life संजय दत्त ने मुश्किल समय में ‘मुन्नाभाई MBBS’ जैसी film बना कर उनकी नैया पार लगाने वाले राजकुमार हिरानी को अपनी life पर film बनाकर उनका सच दुनिया को बताने की जिम्मेदारी दी। raju hirani और उनके सह लेखक abhijat joshi ने sanjay dutt की जिंदगी की story को खूबसूरत कहानी लिखी और हिरानी ने उस पर बेहतरीन film बनाई है। Indeed हिरानी इस दौर के एक बेहतरीन story टेलर हैं, जो किसी भी story को interesting अंदाज़ में पेश कर सकते हैं। फिल्म का first half आपको बांध कर रखता है, लेकिन second half में sanjay मीडिया के मत्थे अपने सारे दोष को निकालकर खुद को निर्दोष साबित करते हुए नज़र आते हैं।
sanju का role कर रहे ranbir kapoor ने तो इस role को इस तरह से किया जैसे उन्होने इस रोल को जी लिया। film देखते वक्त कई बार आप खुद गच्चा खा जाएंगे कि screen पर sanjay dutt हैं या ranbir। बेशक “संजू” actor रणबीर के career की बेहतरीन films में से एक होगी। वहीं परेश रावल ने भी sunil dutt के role की जबरदस्त acting की है। film में वह बाप-बेटे की emotional relationship को खूबसूरत अंदाज़ में जीते हैं। नरगिस के रोल में manisha कोइराला भी बेहतरीन लगी हैं। संजय के ameriki dost, कमलेश के role में नज़र आए विकी कौशल ने prove कर दिया कि वह bollywood में लंबी पारी खेलने वाले हैं।

sanju trailer poster
sanju trailer poster

संजू के druggist दोस्त jubin के role में जिम सरभ amazing लगे हैं। संजय की wife मान्यता के रोल में deeya mirza और राइटर विनी के रोल में anushaka sharma भी अच्छी लगी हैं। actually उनके पास ज्यादा कुछ करने को नहीं था। film का संगीत भी खूबसूरती से पिरोया गया है। Especially हर मैदान फतह गाना आपको emotional कर देता है। if आप sanju baba या ranbir kapoor के fan हैं, तो इस weekend यह film miss मत कर देना।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here